http://rajeshtripathi4u.blogspot.in/ Kalam Ka Sipahi / a blog by Rajesh Tripathi कलम का सिपाही/ राजेश त्रिपाठी का ब्लाग: युग नया

Monday, May 26, 2014

युग नया




युग नया जो आया संदेश दे रहा है














युग नया जो आया संदेश दे रहा है।

दुख के दिन बीते, देश बढ़ रहा है।।

अच्छे दिन तो जैसे आ ही गये हैं।

मोदी युग-नायक से छा ही गये हैं।।

      सपनों को अब मिल गयी हैं राहें।

      खुल गयीं हैं विकास की भी बाहें।।

      हर दिशा में अब नव उल्लास होगा।

      अब तो हर पल बस विकास होगा।।

दुनिया के सारे नेता साक्षी बने हैं।

सेवक मोदी देश नायक जो बने हैं।।

वे देश की दशा को संवारने चले हैं।

जानते हैं दुख, गरीबी में जो पले हैं।।

हे जगत के नियंता तुम साथ-साथ रहना।

बदले भारत- भाग्य इतना करम तो करना।।

सदियों से दुख भोगा,शोषित रहे जो वंचित।

उनको न तोड़ना, सपने जो इनके संचित।।

आसेतु हिमालय, ये देश खिल गया है।

सच्चा देश नायक, उसे मिल गया है।।

उनको है भरोसा वह कर दिखायेगा।

इस देश में वह रामराज्य लायेगा।।

दृढ़प्रतिज्ञ है वह, इरादे का अटल है।

नजर में उसकी अब विश्व पटल है।।

दुनिया में फिर भारत का मान होगा।

उसकी प्रतिभा का फिर सम्मान होगा।।

प्राची में उग गया है नवल नव दिवाकर।

समता के प्रकाश से भर जायेगा घऱ-घर।।

मोदी है जिसका नाम, है सच्चा सिपाही।

उसका हर इक कदम दे रहा है गवाही।।

संस्कृति का हामी, भारत मां की संतान है।

वाणी में है भारत, सांसों में हिंदोस्तान है।।

विष-बोल उसने झेले, अविचल रहा हमेशा।

क्या आपने कभी हिम्मती है देखा ऐसा।।

मुदित होगा भारत मोदी जो आ गये हैं।

हर दिल में बन उम्मीद जो छा गये हैं।।

बस यही है प्रार्थना प्रभु आप साथ देना।

पुण्यभूमि भारत को गौरव उसका देना।।

                  -राजेश त्रिपाठी










     


No comments:

Post a Comment